Friday, March 05, 2021
Follow us on
 
 
 
 
Punjab

कोविड के कारण वापस लौटे नागरिकों को रोजगार देने के भरपूर प्रयास: रोहन चंद ठाकुर

October 30, 2020 09:11 PM
 कोविड के कारण वापस लौटे नागरिकों को रोजगार देने के भरपूर प्रयास: रोहन चंद ठाकुर

शिमला। हिमाचल प्रदेश कौशल विकास निगम कौशल प्रशिक्षण के माध्यम से राज्य के युवाओं को स्वरोजगार और रोजगार के अवसर प्रदान कर रहा है। इसके साथ ही, निगम उन हजारों बेरोजगार कुशल और अर्द्ध-कुशल नागरिकों को रोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए प्रयासरत है जो कोविड महामारी के कारण राज्य में वापस आए हैं।
निगम के प्रबंध निदेशक रोहन चंद ठाकुर ने आज यहां बताया कि अब तक 16406 लोगों ने कौशल रजिस्टर पोर्टल पर रोजगार के लिए अपना पंजीकरण कराया है। इस मांग के अनुसार, निगम ने राज्य में स्थित विभिन्न उद्योगों और कंपनियों से संपर्क किया और लगभग 1802 रोजगार के अवसरों की पहचान की। इनमें हेवेल्स, वोल्टास, टैफ, इंडिको रेमेडिज और एमटी ऑटोक्राफ्ट, पेरेडू आदि संगठन शामिल हैं। कौशल रजिस्टर पोर्टल पर नागरिक दर्ज प्रविष्टियों का इन उपलब्ध रोजगार के अवसरों के साथ मिलान किया गया। पोर्टल पर पंजीकृत नागरिक क पता, योग्यता और आकांक्षा और इस तरह के मिलान के आधार पर, निगम द्वारा उद्योग द्वारा प्रस्तावित नौकरी के अवसरों के लिए योग्य 1685 उम्मीदवार की पहचान की गयी।
उन्होंने कहा कि इन उम्मीदवारों से व्यक्तिगत रूप से संपर्क कर परामर्श दिया गया और उपलब्ध नौकरी के अवसरों में शामिल होने के लिए प्रेरित किया गया। नतीजतन, 405 उम्मीदवारों ने नौकरी में शामिल होने में रुचि दिखाई। इन 405 उमीदवारों में से 282 साक्षात्कार में शामिल हुए और 102 उमीदवार को शॉर्टलिस्ट किया गया। बाकी उम्मीदवारों के लिए, जो नौकरी के अवसर में शामिल नहीें हो सके, उन्हें निगम की टीम द्वारा परामर्श दिया जा रहा है तथा रोजगार के अवसरों का लाभ उठाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। अभी तक उपलब्ध आंकड़ों के अध्ययन से पता चलता है कि योग्यता के बावजूद उपलब्ध करवाए गए रोजगार के अवसरों का लाभ नहीं उठाने के कुछ कारण हैं जिनमें कोविड-19, नौकरी का स्थान और उच्च वेतन की अपेक्षाएं आदि शामिल हैं।
रोहन चंद ठाकुर ने कहा कि निगम के प्रत्येक उम्मीदवार को कई रोजगार के अवसर उपलब्ध करवाने पर भी काम कर रहा है ताकि वे उपलब्ध विकल्प में से उपयुक्त अवसर चुन सकें। निगम के कर्मचारी घर-घर जाकर ऐसे लोगों के साथ उपलब्ध अवसरों के बारे में परामर्श दे रहे हैं।
उन्होंने कहा कि बाहरी राज्य से लौटने वाले कुशल और अर्द्ध-कुशल बेरोजगार नागरिक 'ह्यद्मद्बद्यद्यह्म्द्गद्दद्बह्यह्लद्गह्म्-द्धश्च-द्दश1-द्बठ्ठ' पर अपना पंजीकरण करवा सकते हैं, जहाँ कंपनियां और उद्योग अपनी आवश्यकताओं को भी पंजीकृत कर सकते हैं जिसके बाद हिमाचल प्रदेश कौशल विकास नगम आवेदक को उनका नाम पता और योग्यता के अनुसार निकटतम कंपनी या उद्योग में नौकरी के अवसर प्रदान करने का प्रयास करेगा।

 
Have something to say? Post your comment